क्या Vedanta Limited Share में लॉन्ग टर्म के लिए निवेश किया जा सकता है?

MoneyNFO

Stock Market
Vedanta Limited share

Vedanta Limited share is currently at 233 rupees level. The stock quote 52 week high and 52 week low of RS 341 and RS 233 rupees respectively. In the last one month this stock has declined by 17% and almost 25% so far this year. Mr. Anil Agarwal led Vedanta Limited is good for the long term or investors should stay away, this is an interesting question.

Vedanta Limited Q1 Results

सबसे पहले जून तिमाही के प्रदर्शन पर गौर करते हैं. कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिट सालाना आधार पर 5592 करोड़ रुपए से घटकर 3308 करोड़ रुपए रहा. EBITDA 10741 करोड़ रुपए से घटकर 6975 करोड़ रुपए रहा. EBITDA मार्जिन 32% से घटकर 24% रहा. रेवेन्यू/नेट सेल्स/ऑपरेशनल इनकम 38251 करोड़ रुपए से घटकर 33342 करोड़ रुपए रही. प्रॉफिट बिफोर टैक्स यानी PBT 7260 करोड़ रुपए से घटकर 4086 करोड़ रुपए पर आ गया है.

Vedanta Limited net debt is 59192 crores

कंपनी का फ्री कैश फ्लो 3098 करोड़ रुपए का है. ROCE यानी रिटर्न ऑन कैपिटल एंप्लॉयड 17% रहा. 30 जून 2023 के आधार पर वेदांता लिमिटेड पर कुल कर्ज यानी Gross debt 73484 करोड़ रुपए का है. नेट आधार पर कर्ज यानी Net debt 59192 करोड़ रुपए का है. कंपनी के पास कैश और कैश इक्वीवैलेंट 14292 करोड़ रुपए का है.

Vedanta Outlook is Negative

BSE को शेयर की गई सूचना में कंपनी ने बताया कि CRISIL और India Ratings ने ‘AA’ रेटिंग दी है, लेकिन आउटलुक निगेटिव दिया है. कंपनी ने पहली तिमाही में प्रति शेयर 18.5 रुपए का डिविडेंड जारी किया. डिविडेंड यील्ड 7% है.

FII and DII stake in Vedanta Limited decreasing

FII और DII की हिस्सेदारी लगातार घटी है. जून 2023 के आधार पर FII की हिस्सेदारी 7.48% रही. मार्च तिमाही में यह 7.89%, दिसंबर तिमाही में 7.9%, सितंबर तिमाही में 8.09% और जून 2022 तिमाही में 8.68% थी. FII/FPI की संख्या 679 से घटकर 656 पर आ गई है. DII ने भी लगातार हिस्सेदारी घटाई है. जून 2023 के आधार पर डोमेस्टिक इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स की हिस्सेदारी 10.05 फीसदी रही. मार्च तिमाही में यह 10.27 फीसदी और जून 2022 तिमाही में 11.56 फीसदी थी.

Promoters holding is 100% pledged

कंपनी के साथ सबसे ज्यादा निगेटिव यह है कि प्रमोटर के पास 68.11% स्टेक तो है लेकिन पूरा-पूरा प्लेज यानी बैंकों के पास गिरवी रखी है. Mutual Funds ने भी 0.45 फीसदी से हिस्सेदारी घटाकर जून तिमाही में 0.25 फीसदी कर दिया. अब 26 की जगह केवल 23 स्कीम का पैसा इसमें लगा है. जून 2022 तिमाही में म्यूचुअल फंड के पास कुल 2.1% हिस्सेदारी थी.

What is good about Vedanta Limited?

वेदांता के साथ अच्छा ये है कि यह हेल्दी डिविडेंड दे रही है. Vedanta Limited ने पहली तिमाही में प्रति शेयर 18.5 रुपए का डिविडेंड जारी किया. डिविडेंड यील्ड 7% है.

Vedanta Limited P/E Ration is also High

बीते पांच सालों के प्रदर्शन की बात करें तो सेल्स ग्रोथ CAGR 10%, प्रॉफिट ग्रोथ CAGR 4%, स्टॉक प्राइस CAGR 1% और रिटर्न ऑन इक्विटी CAGR 21% है. P/E यानी प्राइस टू अर्निंग रेशियो 12 के करीब है. इसके कॉम्पिटिटर में Coal India और NMDC जैसी कंपनियां हैं जिसका P/E रेशियो 5 और 7 है. इस इंडस्ट्री का कैटिरी P/E रेशियो 12 के करीब है. ऐसे में निवेशक वेदांता की जगह पर दूसरे स्टॉक की तरफ देख सकते हैं.

About Vedanta Limited

Vedanta Limited is a subsidiary of Vedanta Resources Limited. This is one of the world’s leading natural resources company. Company business is spanning across India, South Africa, Namibia, Liberia, UAE, Korea, Taiwan and Japan with significant operations in Oil & Gas, Zinc, Lead, Silver, Copper, Iron Ore, Steel, Nickel, Aluminium, Power & Glass Substrate. Vedanta Limited has mega plan and foray into the semiconductors and display glass business.

What to do in Vedanta Limited?

इन तमाम ऐनालिसिस के बाद निवेशकों से यह अपील होगी कि वे इस सेक्टर के अन्य स्टॉक्स में अवसर तलाश सकते हैं. स्टॉक प्रदर्शन नहीं कर रहा है. प्रमोटर की हिस्सेदारी गिरवरी रखी है. Mutual Funds, FII, DII अपना निवेश लगातार घटा रहे हैं. कर्ज का विशाल बोझ है. आउटलुक निगेटिव बताया है. ऐसे में निवेशकों को पैसा लगाने से पहले गंभीरता से विचार जरूर करना चाहिए.

(Disclaimer: स्टॉक में निवेश की सलाह Money NFO की नहीं है. ब्रोकरेज की रिपोर्ट को आपके सामने विस्तार पूर्वक रखा गया है. निवेश से पहले कंपनी के कामकाज, स्टॉक के प्रदर्शन, बिजनेस आउटलुक, इंस्टीट्यूशनल निवेशकों के रुख समेत तमाम पहलुओं के बारे में जानकारी देने की कोशिश की गई है. अगर आप किसी स्टॉक में निवेश करना चाहते हैं तो उससे पहले अपने फाइनेंशियल एडवाइजर की सलाह जरूर लें.)